Hindi Diwas Speech | हिंदी दिवस पर भाषन देने के लिए इस तरह तैयारी करें

Hindi Diwas Speech देने के लिए हम कुछ तरीके बताने जा रहे हैं जिससे आप बेहतर तरीके से भाषन दे सके। हमने पूरा प्रयास किया हैं आपके स्पीच को आसान और बेहतर बनाने कि लिए।

इस वर्ष Hindi Diwas 2022 में 14 सितम्बर बुधवार को मनाया जाएगा। भारत के संविधान सभा ने एकमत होकर यह फैसला लिया कि हर वर्ष हिंदी दिवस 14 सितंबर को को मनाया जाएगा और पहली बार भारत में 1953 को हिंदी दिवास मनाया गया था।

#1 हिंदी दिवस पर भाषन

अपने स्पीच की शुरूवात इस तरह करें-

आज के इस सभा में मौजूद सभी लोंगो को मेरा नमस्कार। माननीय प्रधानाचार्य महोदय, आदरणीय अध्यापक गण एवं मेरे सभी मित्रों आप सभी को Hindi Diwas की हार्दिक शुभकामनाएं। जैसे की आप सभी जानते हैं आज हम सभी यहां पर हिंदी दिवस के इस पावन दिन को उत्सव मनाने के लिए एकत्र हुए हैं।

14 सितेबंर हम सभी भारतीयों के लिए महत्वपूर्ण दिन हैं क्युकि 14 सितंबर 1949 का ही वो पवित्र दिन था जब देश के संविधान सभा ने एकमत हो कर यह निर्णय लिया कि अब हिंदी हमारे देश की राजभाषा होगी।

भारत में पहली बार 14 सितंबर 1953 में हिंदी दिवस मनाया गया था। तबसे प्रतेक वर्ष 14 सितेबंर को पूरे देश में Hindi Diwas मनाया जाता हैं। भारत एक विविधताओं का देश हैं और देश के सभी नागरियो को हिंदी जोड़कर रखने में मुख्य योगदान निभाते हैं। हिंदी भाषा का इस्तेमाल केवल भारत में ही नही बल्कि विश्व के कई हिस्सों में किया जाता हैं और हिंदी इतनी प्रचलीत हैं कि विश्व में तीसरे स्थान पर सबसे अधिक बोले जाने वाली भाषा हैं।

मैं पुन: आप सभी को हिंदी दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं देती हूँ और इन्हीं शब्दों के साथ अब मैं अपनी स्पीच को विराम देती हूँ। मुझे इजाजत दीजिए, नमस्कार।

# 2 हिंदी दिवस पर भाषन

यहां पर पधारे सभी अतिथियों को मेरा नमम। और हिंदी दिवास की ढेर सारी शुभकामनाएं।

जैसा की आप सभी जानते हैं हम सब यहां हिंदी दिवस की पावन दिन को सेलिब्रेट करने के लिए एकत्र हुए हैं। आज का दिन हम सभी भारतीयों के लिए काफी महत्वपूर्ण भरा दिन हैं क्युकि आज का ही वो पवित्र दिन हैं जब देश में पहली बार हिंदी दिवस मनाया गया था।

आज के समय में यह चिंताजनक बात हैं कि लोग हिंदी भाषा के महत्व को धीडे़ – धीड़े भूल रहे हैं और इसके महत्व को जानते हुए भी इसे अनदेधा कर रहे हैं। भारत के नागरिकों को इसके महत्व तो समझाना चाहिए। हिंदी हमारे देश की राजभाषा हैं, हिंदी भाषा ही देश का गौरव, संस्कृति और सम्मान हैं। इसके पीछे हमें एक अलग ही पहचान मिली हैं जो देश को विश्व में सबसे अलग बनाती हैं।

14 सितेबंर 1949 में हमारे देश के संविधान ने ये निर्णय लिया कि, आज के इस पवित्र दिन को हिंदी भाषा दिवस के रूप में मनाया जाएगा, और साथ में यह भी निर्णय लिया गया कि हिंदी ही अब भारत की अधिकारीक भाषा होगी। हमे यह जानकर बहुत खुशी और गौरव होता हैं कि हिंदी भाषा केवल भारत में नही बोली जाती हैं बल्कि दुनिया कई जगहों पर बोली जाती हैं। English और Chinese भाषा के बाद दुनिया में सबसे अधिक बोली जाने वाली हिंदी भाषा हैं।

इन्हीं के साथ में अपनी वानी समाप्ता करता / करती हूँ, आप सभी यहां हिंदी दिवस के समारोह में आए, इसके लिए आप सभी को दिल से धन्यावाद।

अन्य लेख पढ़े-

# 3 हिंदी दिवस पर भाषन

आजके हिंदी दिवस की समारोह में आए सभी अतिथियों, माननीय प्रधानाचार्य महोदय और आदरणीय अध्यापक गण आप सभी को मेरा नमन और हिंदी दिवास की हार्दिक शुभकामनाएं।

माननीय प्रधानाचार्य महोदय, आदरणीय अध्यापक गण एवं मेरे सभी मित्रों आप सभी को Hindi Diwas की हार्दिक शुभकामनाएं। इस तरह से अपनी स्पीच की शुरूवात करें-

आजादी के बाद संविधान सभा के सामने राजभाषा का प्रश्न खड़ा हुआ, तब उनके सामने दो विकल्प था इंग्लिश और हिंदी कुछ लोग इंग्लिश को राजभाषा बनाना चाहते थे तो कुछ हिंदी को। हलांकि संविधान सभा के सामने ये दोनों भाषा को हि राजभाषा के रूप में चयन किया गया था। परंतु संविधान सभा ने एकमत हो कर, 14 सितंबर 1949 को हिंदी भाषा को राजभाषा घोषित किया। और हिंदी भाषा के प्रचार के लिए सिफ़ारिश किया गया।

उसके बाद से सितबंर 14, 1953 में पहली बार हिंदी दिवस मनाया गया और तबसे हर साल इसी दिन 14 September को हिंदी दिवस मनाया जाता हैं। स्कूल, कॉलेज व अन्य शैक्षणिक और राष्ट्रीय स्तर पर भी बनाया जाता हैं।

ऐसे करें, हिंदी दिवस पर भाषन की तैयरी

जब आप स्पीच देने के लिए मंच पर जाए, उससे पहले आपको इन बातों को ध्यान में रखना हैं। आपको अपने स्पीच शुरू करने से पहले कुछ सलाह दिए गए हैं जिनसे आपके स्पीच दमदार हो सकें-

जब आप मंच पर जाए, तो जिनते भी उत्वस में आए हैं उन सभी को आदर सहित नमन करें, और हिंदी दिवस पर स्पीच की शुरूवात शायरी या किसी दमदार डायलॉग के साथ करें। इसके साथ दमदार शायरी या किसी पंक्ति से साथ उपस्थित सभी अतिथियों को हिंदी दिवस की शुभकामनाएं प्रस्तुत करें। उसके बाद आपने जो भाषन तैयर किए हैं उन्हे पूरे जब्बे के साथा लोगो के सामने पेश करें। याद रहे आपको स्पीच में दिंदी दिवस का इतिहास व महत्व का जिक्र जरूर करना हैं।

FAQ

हिंदी दिवस पर स्पीच कैसे बोले?

इस लेख में पूरी जानकारी दिए गए, जिसे पढ़ कर आप हिंदी दिवस पर दमदार स्पीच बोल पाएंगे।

भारत में हिंदी दिवस कब मनाया जाता हैं?

14 सितम्बर को भारत में हिंदी दिवस मनाया जाता हैं।

14 सितम्बर को हिंदी दिवस क्यो मनाया जाता हैं?

क्योंकि 14 सितम्बर को संविधान सभा ने एकत्र होकर हिंदी दिवस मनाने का निर्णय लिया था।

निष्कर्ष

हमे उम्मीद हैं कि आप इस लेख को पढ़ने के बाद Hindi Diwas Speech अच्छे तरह लोगो के सामने पेश करेंगे। यदि कोई आपका मित्र हैं जो हिंदी दिवस पर स्पीच देना चाहता हैं तो उसे भी इस लेख को जरूर शेयर करें।

मेरा नाम सुनिल पासवान है और मै InHindiGyan.com का संस्थापक एवं कंटेंट राइटर हुॅ मुझे इंटरनेट, बिजनेस, पैसे कैसे कमाए एवं क्रिप्टोकरेंसी के बारे में लिखने मे काफी ज्यादा दिलचस्प है और इन विषय पर लोगो तक सही जानकारी पहुंचाना ही मेरा एक मात्र उद्देश्य है।

Leave a Comment